स्टंट करने वाले बेटे की ACP ने की पिता से शिकायत, युवक ने वारदात कर लिया बदला

सड़कों पर बाइक या कार से स्टंट करना किसी भी तरह से खतरे से खाली नहीं है. इससे स्टंट करने वाले की जान का जोखिम तो रहता ही है, साथ में सड़क से गुजर रहे अन्य लोगों के भी चपेट में आने का डर रहता है. लेकिन दिल्ली से सटे गुरुग्राम में स्टंटबाजी का एक नया मामला सामने आया है. यहां स्टंट करते एक युवक को पुलिस ने पकड़कर उसके पिता के सामने पेश कर दिया. स्टंटबाज का पिता खुद एक पुलिस अधिकारी था. इस पर गुस्साए पुलिस अधिकारी पिता ने बेटे को थप्पड़ रसीद कर दिया. अब बेटे ने इस बेइज्जती का बदला पुलिस अधिकारी की कार को टक्कर मार कर लिया.

यह घटना द्वारका एक्सप्रेसवे की है. पुलिस ने बताया कि घटना 17 जनवरी की रात सेक्टर 10-ए थाना क्षेत्र के गढ़ी हरसरू के पास द्वारका एक्सप्रेसवे की है. यहां एसीपी वरुण दहिया और अपराध इकाई के एक निरीक्षक सरकारी वाहन में गश्त पर थे. एसीपी ने सड़क पर एक युवक को एसयूवी में स्टंट करते देखा. पुलिस ने युवक को रोका और उससे पूछताछ की.

पूछताछ में युवक तरुण कुमार ने बताया कि उसके पिता गुरुग्राम पुलिस में विशेष पुलिस अधिकारी (एसपीओ) हैं. यह सुनकर एसीपी वरुण दहिया ने उससे अपने पिता को बुलाने के लिए कहा. कुछ देर बाद एसपीओ मौके पर पहुंचे. जब उन्हें पूरी घटना के बारे में पता चला तो उन्होंने एसीपी और निरीक्षक के सामने अपने बेटे को थप्पड़ मार दिया.

पुलिस ने बताया कि थप्पड़ मारे जाने से गुस्साए युवक ने वहां से जाते वक्त एसीपी को कार से टक्कर मार दी. इस टक्कर से एसीपी जमीन पर गिर गए और निरीक्षक तथा पुलिस वाहन का चालक बाल-बाल बचे. एसीपी दाहिया कई दिनों तक अस्पताल में भर्ती रहे और इस सप्ताह ड्यूटी पर लौटे. पुलिस के अनुसार एसीपी (अपराध) वरुण दहिया के घुटनों और पेट में चोट आई. उन्हें अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा.

आरोपी तरुण कुमार के खिलाफ सेक्टर 10 ए थाने में भारतीय दंड संहिता और मोटर वाहन अधिनियम की संबंधित धाराओं के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई. हरसरू गांव के निवासी तरुण कुमार (25) को बृहस्पतिवार को गिरफ्तार किया गया. पुलिस ने बताया कि घटना के तीन सप्ताह से अधिक समय बाद बृहस्पतिवार को आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया और उसकी कार बरामद कर ली गई है.

 

Hindi News Haryana

Learn More →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *